• Roy

मैं तुझमें दिखूँ और तू मुझमें दिखे!!!

Written by: Bindu


मैं चाहती हूँ

तू सूरज बन

अपने आप को इतना जला

कि दूसरों पर

रोशनी बरसा दे

मैं चाहती हूँ

तू बादल बन

अपने आप को इतना भर

कि बरस कर

दूसरों को सकू से भर दे

मैं चाहती हूँ

तू पंछी बन

अपने आप को इतना उड़ा

कि धरती को टुकड़ों

में ना बंटने दे

मैं चाहती हूँ

तू मेहंदी बन

अपने आप को इतना पीस

कि दूसरों को अपने

प्रेम में रंग दे

मैं चाहती हूँ

तू हर उस कण में जन्म ले

अपने आप को इतना

एकाकार कर

कि मैं तुझमें दिखूँ

और तू मुझमें दिखे।



29 views

©2020 by Shoot Guru. Proudly created with Wix.com